राष्ट्रीय

लद्दाख दौरे पर अचानक पहुंचे पीएम मोदी, गलवान घाटी झड़प में घायल हुए जवानों से मिले पीएम मोदी, बोले- आपको जन्म देने वाली माताओं को नमन करता हूं
राष्ट्रीय

लद्दाख दौरे पर अचानक पहुंचे पीएम मोदी, गलवान घाटी झड़प में घायल हुए जवानों से मिले पीएम मोदी, बोले- आपको जन्म देने वाली माताओं को नमन करता हूं

गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के बाद भारत-चीन के बीच तनाव जारी है। ऐसे में आज सुबह पीएम मोदी अचनाक लेह पहुंचे। पीएम मोदी के साथ चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत भी मौजूद रहे। यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सेना, वायुसेना के अधिकारियों ने जमीनी हकीकत की जानकारी दी। रक्षा मंत्री जाने वाले थे लद्दाख, लेकिन पहुंचे मोदी https://twitter.com/rajnathsingh/status/1278946905116905472?s=20 लद्दाख रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को जाना तो था, लेकिन चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत और आर्मी चीफ जनरल एमएम नरवणे के साथ सुबह 9:30 बजे प्रधानमंत्री मोदी पहुंच गए। वे पहले लेह गए। वहां से लद्दाख में 11 हजार फीट की ऊंचाई पर मौजूद फॉरवर्ड लोकेशन नीमू पर पहुंचे। बता दें, पीएम मोदी का ये दौरा गलवान घाटी में चीन से हुई हिंसक झड़प के 18 दिन बाद हुआ। आपको जन्म देने वाली माताओं को मेरा नमन- पीएम मोदी...
National Doctors’ Day: 1 जुलाई को मनाया जाता है डॉक्टर दिवस, जाने क्या है इसमें खास !
राष्ट्रीय

National Doctors’ Day: 1 जुलाई को मनाया जाता है डॉक्टर दिवस, जाने क्या है इसमें खास !

हर साल 1 जुलाई को राष्ट्रीय डॉक्टर दिवस मनाया जाता है। देश के महान चिकित्सक और पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. बिधानचंद्र रॉय को सम्मान देने के लिए देश में डॉक्टर दिवस मनाया जाता है। बता दें, उनका जन्‍मदिवस और पुण्यतिथि दोनों इसी एक ही तारीख को पड़ती है। केंद्र सरकार ने साल 1991 में इस दिन को मनाने की शुरुआत की थी। तो आज हम फीडबाबा के जरिए जानते है कि क्या है डॉक्टर दिवस डॉक्टर्स को धरती पर मिली भगवान की उपाधि ! जिंदगी और मौत के बीच लड़ रहे मरीजों का डॉक्टर न सिर्फ इलाज करते हैं, बल्कि उन्हें एक नया जीवन भी देते हैं। इसलिए उन्हें धरती पर भगवान का दर्जा दिया जाता है। डॉक्टर्स को जीवनदाता कहा जाता है। ऐसे में हर साल 1 जुलाई को डॉक्टरों के समर्पण और ईमानदारी के प्रति सम्मान जाहिर करने के लिए यह दिवस मनाया जाता है। कौन है डॉ. बिधान चंद्र रॉय ? डॉ बिधान चंद्र रॉय का जन्म ...
पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम किया संबोधन, इन 16 मिनट में पीएम मोदी ने बताई आगे की रणनीति
राष्ट्रीय

पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम किया संबोधन, इन 16 मिनट में पीएम मोदी ने बताई आगे की रणनीति

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार यानि की आज को देश को संबोधित करते हुए कोरोना को लेकर चर्चा की। यह चर्चा मात्र 16 मिनट की थी। पीएम मोदी ने अपने संबोधन में एक देश के प्रधानमंत्री पर नियमों का पालन ना करने पर लगे जुर्माने का जिक्र किया है। बुल्गारिया के प्रधानमंत्री पर लगा जुर्माना पीएम मोदी ने अपने संबोधन में बुल्गारिया के प्रधानमंत्री बोकोको बोरिसोव का जिक्र किया। बता दें, बोरिसोव एक चर्च में बिना मास्क लगाए ही पहुंच गए थे, जिसके बाद देश के नियमों के तहत उन पर करीब 14 हजार रुपए (150 पॉउंड) का जुर्माना लगाया गया था। पीएम मोदी ने बुल्गारिया के प्रधानमंत्री का जिक्र करते हुए कहा, अभी आपने खबरों में देखा होगा कि एक देश के प्रधानमंत्री पर 13 हजार का जुर्माना इसलिए लगाया गया, क्योंकि उन्होंने मास्क नहीं पहना था। भारत में भी स्थानीय प्रशासन को इसी चुस्ती से काम करना चाहिए। यह 13...
सरकार का बड़ा फैसला, टिक-टॉक समेत 59 चाइनीज ऐप पर लगाया बैन
राष्ट्रीय

सरकार का बड़ा फैसला, टिक-टॉक समेत 59 चाइनीज ऐप पर लगाया बैन

सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। बता दें, कुछ समय पहले भारतीय सुरक्षा एजेंसियों से चाइनीज एप की एक लिस्ट तैयार कर केंद्र सरकार से अपील की थी इनको बैन किया जाए या फिर लोगों को कहा जाए कि इनको तुरंत अपने मोबाइल से हटा दें। इसके पीछे दलील ये दी गई थी कि चीन भारतीय डेटा हैक कर सकता है। ऐसे में भारत सरकार ने फैसला दिया है, ये फैसला भारत-चीन तनाव के बीच लिया गया है। बता दें, सरकार ने 59 चाइनीज ऐप पर रोक लगाने का फैसला लिया है। बैन किए गए ऐप में टिक-टॉक ऐप भी शामिल है। इसके अलावा यूसी ब्राउजर, कैम स्कैनर जैसे कई ऐसे ऐप शामिल है, जो कि भारत में बेहद यूज किए जाते है। सरकार ने इन ऐप पर लगाई पाबंदी 1. TikTok 2. Shareit 3. Kwai 4. UC Browser 5. Baidu map 6. Shein 7. Clash of Kings 8. DU battery saver 9. Helo 10. Likee 11. YouCam makeup 12. Mi Community ...
UP Board Result- जारी हुए 10वीं-12वीं के रिजल्ट, सीएम योगी ने दी बच्चों को बधाई
राष्ट्रीय

UP Board Result- जारी हुए 10वीं-12वीं के रिजल्ट, सीएम योगी ने दी बच्चों को बधाई

1- यूपी बोर्ड के 10वीं-12वीं के परीक्षा परिणाम आज घोषित कर दिेए गए। आज 56 लाख छात्रों का इंतजार हुआ खत्म। बता दें, कोरोना वायरस महामारी के बीच इस साल का रिजल्ट पिछले साल से बेहतर रहा है। यूपी के उप-मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कक्षा 10वीं-12वीं के रिजल्ट किया घोषित। 2- यूपी में लड़कियों ने मारी बाजी 10वीं में 83.31% और 12वीं में 74.63% छात्र पास हुए हैं। वहीं इस बार लड़कियों ने एक बार फिर से बाजी मारी है। दोनों ही बोर्ड परीक्षाओं में लड़कियों का पासिंग परसेंटेज लड़कों से ज्यादा रहा है। 3- 10वीं में रिया ने किया टॉप, जबकि 12वीं में अव्वल रहे अनुराग 10वीं और 12वीं के रिजल्ट हो चुके है। 10वीं कक्षा में रिया जैन ने टॉप किया है, वहीं 12वीं में अनुराग मलिक ने97% नंबरों से पूरे प्रदेश में टॉप किया। जबकि रिया जैन को 96.67% नंबर मिले हैं। 4- इस साल 10वीं में 8...
25 जून: आज के दिन देश में आपातकाल लगाने की घोषणा की गई थी, स्वतंत्र भारत के इतिहास का सबसे विवादित दिन रहा था आज का दिन
राष्ट्रीय

25 जून: आज के दिन देश में आपातकाल लगाने की घोषणा की गई थी, स्वतंत्र भारत के इतिहास का सबसे विवादित दिन रहा था आज का दिन

इतिहास में 25 जून का दिन भारत के लिहाज से एक महत्वपूर्ण घटना का गवाह रहा है। आज ही के दिन 1975 में देश में आपातकाल लगाने की घोषणा की गई, जिसने कई ऐतिहासिक घटनाओं को जन्म दिया। 25 जून 1975 से 21 मार्च 1977 तक की 21 महीने की अवधि में भारत में आपातकाल था। तत्कालीन राष्ट्रपति फ़ख़रुद्दीन अली अहमद ने तत्कालीन प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी के नेतृत्व वाली सरकार की सिफारिश पर भारतीय संविधान के अनुच्छेद 352 के अधीन देश में आपातकाल की घोषणा की। बता दें, इंदिरा गांधी आसानी से अपना सिंहासन छोड़ने के मूड में नहीं थीं। संजय गांधी कतई नहीं चाहते थे कि उनकी मां के हाथ से सत्ता जाए। उधर विपक्ष सरकार पर लगातार दबाव बना रहा था। नतीजा ये हुआ कि इंदिरा ने 25 जून की रात देश में आपातकाल लागू करने का फैसला लिया। आधी रात इंदिरा ने तत्कालीन राष्ट्रपति फखरूद्दीन अली अहमद से आपाताकाल के फैसले पर दस्तखत करवा लिए...
कोरोना वायरस वैक्सीन: किस तरह विकसित की जा रही है वैक्सीन ?
राष्ट्रीय

कोरोना वायरस वैक्सीन: किस तरह विकसित की जा रही है वैक्सीन ?

कोरोना वायरस वैक्सीन- भले ही कोरोना वायरस महामारी ने वैक्सीन खोजने के लिए वैश्विक वैज्ञानिक समुदाय के बीच एक अभूतपूर्व प्रतिक्रिया निर्धारित की है। अगले महीने तीन उम्मीदवारों के रूप में एक पायदान ऊपर किक करने के लिए निर्धारित है - मॉर्डन इंक, चीन के सिनोवैक बायोटेक और यूके के ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका द्वारा विकसित किए गए- देर से चरण के परीक्षणों में प्रवेश करने के लिए तैयार हैं। WHO के अनुसार, 13 प्रायोगिक टीकों का मनुष्यों में परीक्षण किया जा रहा है और 120 से अधिक अन्य विकास के पहले चरण में हैं, जबकि संक्रमण 9 मिलियन के करीब है, जिसमें 4,68,484 मौतें शामिल हैं। मानव परीक्षण के तहत चीन के 6 उम्मीदवार हैं। यदि सब कुछ ठीक रहता है, तो हमारे पास नवंबर तक आपातकालीन उपयोग के लिए एक टीका हो सकता है, हालांकि विशेषज्ञों ने कहा है, बड़े पैमाने पर उत्पादन और आपूर्ति श्रृंखला मुद्दों के बाद अप्र...
कोरोना: पतंजलि ने लॉन्च की कोरोनिल, जड़ी-बूटियों से बनी कोरोना की दवाई, बाबा रामदेव ने बताए कोरोनिल के गुण
राष्ट्रीय

कोरोना: पतंजलि ने लॉन्च की कोरोनिल, जड़ी-बूटियों से बनी कोरोना की दवाई, बाबा रामदेव ने बताए कोरोनिल के गुण

कोरोनिल आज सुबह से ये नाम काफी बार सुनने को मिला... क्या सच में पतंजलि ने कोरोना की दवाई बना ली है ? क्या सच में इससे कोरोना मरीज ठीक हो रहे है ? कोरोना संकट के दौर में दुनिया के सभी बड़े देश कोरोना की दवा बनाने की कोशिश में जुटे हैं। भारत में कोरोना की दवा बनाने को लेकर लगातार तमाम प्रयास किए जा रहे हैं। इसी क्रम में पतंजलि का दावा है कि उन्होंने कोरोना वायरस को मात देने वाली दवाई बना ली है, तो आइए इसके बारे में फीडबाबा के जरिए जानते है। आखिर ये क्या है ? योगगुरु बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि ने दावा किया है, उसने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए दवा तैयार कर ली है। आज प्रेस कॉन्फ्रेंस में स्वामी रामदेव ने कहा, दुनिया इसका इंतजार कर रही थी कि कोरोना वायरस की कोई दवाई निकले। उन्होंने कहा कि आज हमें गर्व है कि कोरोना वायरस की पहली आयुर्वेदिक दवाई को हमने तैयार कर ली है। इस आयुर्वेदिक दवाई...
अतुल्य भारत 2.0 अभियान क्या है ? पर्यटन के लिए अविश्वसनीय भारत 2.0 योजना…
राष्ट्रीय

अतुल्य भारत 2.0 अभियान क्या है ? पर्यटन के लिए अविश्वसनीय भारत 2.0 योजना…

महामारी COVID-19 के कारण अर्थव्यवस्था पर काफी प्रभाव पड़ा है। ऐसे में यात्रा, पर्यटन और आतिथ्य क्षेत्र सबसे ज्यादा बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। इस महामारी के चलते घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय यात्रा के प्रतिबंधित होने से पर्यटन उद्योग को हजारों करोड़ रुपए से भी अधिक का नुकसान हुआ है। भारतीय उद्योग परिसंघ ने इसे सबसे बुरे संकटों में से एक करार दिया है। इससे न केवल घरेलू पर्यटन उद्योग, बल्कि अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन उद्योग भी प्रभावित हुआ है। बता दें, यात्रा और पर्यटन प्रतिस्पर्धी सूचकांक, 2019 में भारत ने अपनी स्थिति में सुधार करते हुए 34वां स्थान प्राप्त किया है। भारत में कश्मीर से कन्याकुमारी तक, अरुणाचल प्रदेश से गुजरात तक प्रत्येक क्षेत्र की अपनी विशिष्टता और संस्कृति है। भारत प्रत्येक क्षेत्र अपने-अपने रंग का है जैसे ठंडा/गर्म रेगिस्तान लद्दाख/ राजस्थान, नदियों में गंगा और ब्रह्मपुत...
ग्लोबल वैक्सीन शिखर सम्मेलन: जीएवीआई क्या है और भारत ने ग्लोबल वैक्सीन एलायंस के लिए $ 15 मिलियन का वादा क्यों किया?
राष्ट्रीय

ग्लोबल वैक्सीन शिखर सम्मेलन: जीएवीआई क्या है और भारत ने ग्लोबल वैक्सीन एलायंस के लिए $ 15 मिलियन का वादा क्यों किया?

ग्लोबल वैक्सीन समिट: ग्लोबल वैक्सीन शिखर क्या है ? भारत ने ग्लोबल वैक्सीन एलायंस के लिए $ 15 मिलियन का वादा क्यों किया ? तो आइए जानते है फीडबाबा के जरिए इनके बारे में... ग्लोबल वैक्सीन शिखर सम्मेलन, जिसे यूनाइटेड किंगडम के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन द्वारा आयोजित किया गया था। कई अन्य वैश्विक नेताओं के बीच प्रधानमंत्री मोदी ने भी इसमें भाग लिया था। भारत ने GAVI में भारत के योगदान के रूप में $ 15 मिलियन का वादा दिया है। 4 जून को प्रधान मंत्री मोदी ने वर्चुअल ग्लोबल वैक्सीन शिखर सम्मेलन को संबोधित किया और GAVI में भारत के योगदान के रूप में $ 15 मिलियन का वादा किया है। इस साल ग्लोबल वैक्सीन शिखर सम्मेलन की मेजबानी यूनाइटेड किंगडम द्वारा की गई थी। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने शिखर सम्मेलन की मेजबानी की, जिसमें 50 से अधिक देशों के व्यापारिक नेताओं, संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों, नागरिक समाज, सरक...