चीनी स्मार्टफोन और इलेक्ट्रॉनिक्स ब्रांडों की बिक्री का भारतीय बाजार पर नहीं पड़ा असर

भारत-चीन सीमा में बढ़े तनाव के कारण देशभर में जनआक्रोश है, लेकिन आक्रोश के कारण भी चीनी स्मार्टफोन और इलेक्ट्रॉनिक्स ब्रांडों की बिक्री का भारतीय बाजार पर कोई असर नहीं पड़ा, तो आइए जानते है इसके बारे में फीडबाबा के जरिए…   

सीमा पर तनाव बढ़ने और सोशल मीडिया पर #BoycottChineseProducts के बाद भी मंगलवार और बुधवार को भारतीय बाजार में चीनी स्मार्टफोन और इलेक्ट्रॉनिक्स ब्रांडों की बिक्री पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है। प्रमुख चीनी ब्रांडों, खुदरा श्रृंखलाओं और ईकॉमर्स मार्केटप्लेस के वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा, ये चीनी ब्रांडों के लिए हमेशा की तरह व्यापार रहा है।

4 प्रमुख सेलफोन और इलेक्ट्रॉनिक्स रिटेल चेन ने कहा, चीनी ब्रांडों के प्रति उपभोक्ता की भावनाएं नहीं बदली हैं, क्योंकि वे पैसे के लिए अच्छी गुणवत्ता और मूल्य के हैं। एक प्रमुख ईकॉमर्स मार्केटप्लेस के साथ एक वरिष्ठ कार्यकारी ने कहा कि चीनी स्मार्टफोन और इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों की बिक्री में कोई गिरावट नहीं है।

अमेज़ॅन और फ्लिपकार्ट दे रहे भारी बढ़ावा

ब्रांड अपनी फ्लैश बिक्री के लिए अमेज़ॅन और फ्लिपकार्ट के साथ आगे बढ़े और वहां उन्हें भारी बढ़ावा दे रहे हैं। भारत की सबसे बड़ी स्मार्टफोन निर्माता कंपनी Xiaomi ने बीते बुधवार को भारत में लॉन्च किए गए लैपटॉप को अपने प्लेटफॉर्म Mi.com पर बेच दिया। एक उद्योग के कार्यकारी ने कहा, विवो ने बीते मंगलवार को अपने 30 हजार मजबूत दुकान मंजिल के अधिकारियों के माध्यम से एक डिपस्टिक उपभोक्ता अध्ययन किया, जिन्होंने कहा कि खरीद पैटर्न या उपभोक्ता भावनाओं पर कोई प्रभाव नहीं था।

यूएस-चाइना जेवी कैरियर मिडिया इंडिया के एमडी कृष्ण सचदेव ने कहा, इसके मीडिया रेंज के उत्पादों के लिए उपभोक्ता भावनाओं में कोई बदलाव नहीं हुआ है। ओप्पो ने बीते बुधवार को स्मार्टफोन की एक प्रीमियम श्रृंखला शुरू की, जबकि वनप्लस अगले महीने स्मार्ट टीवी की एक नई लाइन लॉन्च करने की योजना पर आगे बढ़ रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: